ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
बॉक्सिंग न्यूज़अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजीअज़ीम बनाम सैंटोस रेयेस का मुकाबला फरवरी 11 को वेम्बली मे ।

अज़ीम बनाम सैंटोस रेयेस का मुकाबला फरवरी 11 को वेम्बली मे ।

Boxing News in Hindi

बॉक्सिंग न्यूज़: अज़ीम बनाम सैंटोस रेयेस का मुकाबला फरवरी 11 को वेम्बली मे ।

अज़ीम बनाम सैंटोस रेयेस का मुकाबला फरवरी 11 को वेम्बली मे ।अज़ीम अपने अगले मुकाबले के लिए तयार हो चुके है। उनका अगला मुकाबला सैंटोस रेयेस के के साथ फरवरी 11 को वेम्बली स्टेडियम मे होने वाला है। संटोस अभी तक अवजीत है। जहाँ लगातार उन्होंने 6 स्टॉपेज मैचेस् उन्होंने जीता है।अजीम ने अब खुद को दुनिया के लीडिंग लाइटवेट बॉक्सर के रूप में स्थापित कर लिया है और 2022 की सफलता के बाद कई लोग भविष्य के विश्व चैंपियन के रूप में माने जाते हैं।बीबीसी स्पोर्ट ‘यंग फाइटर ऑफ द ईयर’ पुरस्कार सहित पिछले साल अपने कमाल के प्रदर्शन से बहुत लोगो का विश्वास जीता है।

अज़ीम छुने जा रहे है बड़ी ऊंचाइया अपने अगले मुकाबले से

अजीम अगले महीने विश्व खिताब की अपनी यात्रा पर अगला कदम उठाने जा रहे हैं। और अपने करियर मे बहुत बड़ा पल उनके यहाँ आने वाला है क्योंकि वह पहली बार एक प्रमुख ब्रिटिश क्षेत्र में सुर्खियों में है। अगर अज़ीम अपना सातवा मुकाबला जीत जाते है तो वो अपने आप मे एक अलग रेकॉर्ड बना लेंगे। महान आमिर खान ने 22 साल की उम्र में अपना पहला बड़ा वर्ल्ड टाइटल जीता, लेकिन भविष्यवाणी की है कि अजीम इससे भी पहले विश्व खिताब जीतेंगे।

अज़ीम से ज्यादा उनके भाई उन्हे ज्यादा पड़ा और समझा है, उन्होंने कुछ तरीके भी बताए है। एडम को मुक्केबाजी की जरूरत होती है और वह वास्तव में सभी को परेशान कर रहा है, तो मैं आगे बढ़ूंगा और हम चीजों पर काम करेंगे। हसन अजीम ने मीडिया को बताया। हम दोनो बचपन से ऐसा कर रहे है, ताकि एक दूसरे कि मदद कर सके इससे हम खुद भी आगे बढ़ सके ।

पढ़े Hearn ने कहा जोशुआ कि स्थिति मे होना बहुत मुश्किल है

हसन अपने भाई की तरह एक नाबाद बॉक्सर है, लेकिन वेल्टरवेट में, वह ऊपर के डिवीजन में है। हालांकि, एडम अजीम अभी भी एक घातक मुक्केबाज़ हैं ये सच मे काम करता है, ये मुझे और ताकतवर बनाता है और अज़ीम को भी, साथ ही मेरे पास शक्ति है इसलिए अज़ीम को भी सतर्क रहने की जरूरत है, उसे जागते रहने की जरूरत है। मेरे साथ भी ऐसा ही है,अज़ीम तेज है और वह तेज है इसलिए मैं पलक नहीं झपका सकता, हसन ने कहा।

अज़ीम से ज्यादा उनके भाई उन्हे ज्यादा पड़ा और समझा है, उन्होंने कुछ तरीके भी बताए है। एडम को मुक्केबाजी की जरूरत होती है और वह वास्तव में सभी को परेशान कर रहा है, तो मैं आगे बढ़ूंगा और हम चीजों पर काम करेंगे। हसन अजीम ने मीडिया को बताया। हम दोनो बचपन से ऐसा कर रहे है, ताकि एक दूसरे कि मदद कर सके इससे हम खुद भी आगे बढ़ सके ।

हसन अपने भाई की तरह एक नाबाद बॉक्सर है, लेकिन वेल्टरवेट में, वह ऊपर के डिवीजन में है। हालांकि, एडम अजीम अभी भी एक घातक मुक्केबाज़ हैं ये सच मे काम करता है, ये मुझे और ताकतवर बनाता है और अज़ीम को भी, साथ ही मेरे पास शक्ति है इसलिए अज़ीम को भी सतर्क रहने की जरूरत है, उसे जागते रहने की जरूरत है। मेरे साथ भी ऐसा ही है,अज़ीम तेज है और वह तेज है इसलिए मैं पलक नहीं झपका सकता, हसन ने कहा।

  • बॉक्सिंग चैंपियनशिप
  • IBF
Satish Kumar
Satish Kumarhttps://boxingpulsenews.com/
बॉक्सिंग मेरा पैशन है। मैं बॉक्सिंग और बॉक्सिंग की कहानियों के बारे में लिखता हूं। और मुझे आपके साथ बॉक्सिंग पर अपने विचार साझा करना अच्छा लगता है।

बॉक्सिंग हिंदी लेख

नवीनतम बॉक्सिंग न्यूज़ इन हिंदी