ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
बॉक्सिंग न्यूज़अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजीViktor Faust ने रूस के द्वारा किए गए हमले का किया जिक्र

Viktor Faust ने रूस के द्वारा किए गए हमले का किया जिक्र

Boxing News in Hindi

बॉक्सिंग न्यूज़: Viktor Faust ने रूस के द्वारा किए गए हमले का किया जिक्र

Viktor Faust ने रूस के द्वारा किए गए हमले का किया जिक्र। viktor faust हेवीवेट के बहुत ही तगड़े खिलाडी है, जहाँ उनके शक्ति का कोई तोड़ नही है, पर पिछले एक साल ने उनके अंदर भी एक ऐसा डर पैदा कर दिया है जिससे उभरने के लिए भी उन्हे कही महीने लगे। उन्होंने कहा कि उस दिन मे बता नही सकता था कि मे कितना घबराया हुआ था, मुझे मेरे परिवार और अपने परिजनों कि बड़ी फिक्र हो रही थी। हमारे सामने जो हो रहा था वो शब्दो से बयान करना बहुत ही मुश्किल है।

आखिर कब रुखेगा ये हमला 

युक्रेन पर रूस ने 24 फरवरी 2022 पर हमला किया था, जहाँ रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने युक्रेनी सेना को खत्म करने का संदेश दिया था और युक्रेन कि राजधानी कीव को लेने के इरादे से ये मिशन शुरू किया था। जहाँ अमेरिका ने जवाब दिया कि रूस ऐसा इसलिए कर रहा है क्यूँकि वो नही चाहता कि NATO के खदम उसके या उसके आस- पास के इलाके पर पड़े। इस लडाई को लेकर एक साल होने वाला है पर किसी भी तरह से दोनो तरफ से कोई बात नही हुई है।

और सबसे ज्यादा तकलीफ यहाँ युक्रेन कि आम जनता को ही उठाना पड़ रहा है, जो बेबस है वो युक्रेन छोड़ चुके है। ऐसा ही कुछ हाल Viktor Faust ने देखा है अपने यहाँ जिसके उपर उन्होंने प्रकाश डालते हुए कहा है, जब वो अपने परिवार वालो से मिलने अपने होम टाऊन क्रेमेनचुक पहुँचे तो उन्होंने देखा कि रूसी मिसाइल उनके घरों को, शॉपिंग मॉल को, प्लेग्राउंड, पार्क को, सब कुछ तबाह कर रहे थे।

पढ़े : तीन राउंड के अंदर ही Caroline dubois ने Mashaury को हरा दिया

Faust के परिवार का कोई भी सदस्य घायल नहीं हुआ था, लेकिन यह हमला इस बात की विनाशकारी याद दिलाता था कि रूस के साथ यूक्रेन के युद्ध के दौरान किसी भी दिन क्या हो सकता है। अलग- अलग समाचार आउटलेट्स ने संकेत दिया कि हमले में कम से कम 20 लोग मारे गए और कम से कम 56 अन्य नागरिक घायल हो गए।मैं अपने माता-पिता के साथ रहने के लिए क्रेमेनचुक गया था और उस दिन एक बड़ा रॉकेट हमला हुआ था।

Faust ने मीडिया को बताया यह मेरे घर से ज्यादा दूर नहीं हुआ। यह बहुत खतरनाक था, जो बहुत डरावना होता जा रहा था। बाएँ और दाएँ रॉकेट विस्फोट कर रहे थे। यह बहुत बड़ा सदमा था। Faust का ध्यान अभी अपने करियर की सबसे बड़ी लड़ाई पर है, जो शनिवार रात क्यूबा के साउथपाँ लेनियर पेरो के खिलाफ 10 राउंड की बाउट है।30 वर्षीय faust ने कहा भले मे यहाँ लडाई के लिए अपनी तयारी कर रहा हूँ, लेकिन मेरा पुरा ध्यान क्रेमेनचुक में रहता है, जहां मेरे माता-पिता अभी भी रहते हैं।

Satish Kumar
Satish Kumarhttps://boxingpulsenews.com/
बॉक्सिंग मेरा पैशन है। मैं बॉक्सिंग और बॉक्सिंग की कहानियों के बारे में लिखता हूं। और मुझे आपके साथ बॉक्सिंग पर अपने विचार साझा करना अच्छा लगता है।

बॉक्सिंग हिंदी लेख

नवीनतम बॉक्सिंग न्यूज़ इन हिंदी